World

trump in trouble again: former-model-accuses-trump-of-sexually-assaulting-her | Trump in Trouble: अब मॉडल ने लगाया अमेरिकी राष्ट्रपति पर यौन शोषण का आरोप

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं. अब एक पूर्व मॉडल ने उन पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. एमी डोरिस (Amy Dorris) ने कहा है कि 23 साल पहले एक टेनिस चैंपियनशिप के दौरान ट्रंप ने उनके साथ जबरदस्ती की थी.

डोरिस के मुताबिक, 5 सितंबर 1997 को न्यूयॉर्क में यूएस ओपन के दौरान ट्रंप ने उन्हें वीआईपी बॉक्स में जबरन किस किया. उन्होंने कहा कि जब उन्होंने ट्रंप को हटाना चाहा तो उन्होंने पकड़ और मजबूत कर ली. डोरिस ने कहा कि इस घटना के बाद वह खुद को बीमारी और बेहद अपमानित महसूस करने लगी थीं. हालांकि, ट्रंप ने इन आरोपों का खंडन किया है. उनका कहना है कि 3 नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले उनकी छवि खराब करने के लिए यह आरोप लगाये गए हैं.

ये भी पढ़ें: चीन के ‘कर्ज जाल’ में फंसा भारत का एक और पड़ोसी देश मालदीव, डिफाल्‍टर होने का खतरा

24 साल की थीं एमी
एक इंटरव्यू में मॉडल ने कहा कि जब यह घटना हुई वह 24 साल की थीं. वह काफी डर गई थीं. वह लोगों को सच्चाई बताना चाहती थीं, लेकिन ऐसा नहीं कर सकीं. ट्रंप के वकीलों ने एमी डोरिस के आरोपों का खंडन किया है. उनका कहना है कि राष्ट्रपति ने कभी उनका उत्पीड़न नहीं किया. अगर ऐसा हुआ होता तो वीआईपी बॉक्स में मौजूद लोगों ने जरूर कुछ देखा होता. यह आरोप केवल राष्ट्रपति चुनाव से पहले डोनाल्ड ट्रंप की छवि बिगाड़ने की साजिश है.

पूर्व वकील ने खोले थे कई राज
वैसे, ये कोई नया मामला नहीं है. ट्रंप पर यौन शोषण के आरोप लगते रहे हैं और चुनावी मौसम में उन्हें लेकर हर रोज कोई न कोई खुलासा हो रहा है. ट्रंप के पूर्व वकील माइकल कोहेन (Michel Kohen) ने भी अपनी किताब में उनकी रंगीन मिजाज छवि को लेकर एक बड़ा खुलासा किया था. माइकल ने यहां तक ​​लिखा है कि ट्रंप उनकी 15 वर्षीय बेटी पर बुरी नजर रखते थे. इसके अलावा भी उन्होंने राष्ट्रपति की जिंदगी के कई काले पहलुओं को उजागर किया है. कोहेन ने 2012 की एक घटना का जिक्र करते हुए बताया है कि ‘न्यू जर्सी गोल्फ क्लब’ में ट्रंप ने उनकी बेटी सामंथा को लेकर बेहद गंदी और अश्लील टिप्पणी की थी. जब उन्होंने ट्रंप को बताया कि वो उनकी बेटी है, तब भी वो बाज नहीं आये. उन्होंने यहां तक ​​कहा कि ‘यह इतनी हॉट कब हुई’.

चुनाव में उठाना पड़ सकता है नुकसान
अमेरिका में 3 नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होने हैं, ऐसे में लगातार हो रहे खुलासों का खामियाजा डोनाल्ड ट्रंप को उठाना पड़ सकता है. पहले से ही कई सर्वेक्षणों में ट्रंप अपने प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन से पीछे चल रहे हैं. खासकर कोरोना महामारी को लेकर लोगों में उनके प्रति नाराजगी है. सियासी जानकर भी मानते हैं कि पहले से नाराज लोगों की नाराजगी ट्रंप को लेकर हो रहे खुलासों से और बढ़ सकती है.

ये भी देखें-

Close