World

इस कंपनी ने जानवरों के लिए बनाई कोरोना वैक्सीन, बिल्लियों पर होगा ट्रायल

नई दिल्लीः दुनिया भर में कोरोना वायरस (Corona virus) दिन व दिन बढ़ता ही जा रहा है. दुनिया में शायद ही ऐसा कोई देश होगा जहां कोविड -19 का संक्रमण न फैला हो. जैसे-जैसे वक्त बीत रहा है वैसे-वैसे राज्यों में हर रोज रिकॉर्ड संख्या में कोरोना के केस सामने आ रहे हैं. अब इंसान ही नहीं बल्कि जानवरों के लिए भी लोग इस महामारी को लेकर चिंतित नजर आ रहे हैं. जैसे ही महामारी का फैलना शुरू हुआ था तब वैज्ञानिकों ने वायरस को लेकर चेतावनी दी थी कि कोविड इंसानों से पालतू जानवरों को संक्रमित कर सकता है.

शुरुआत में इस संबंध में इंटरनेट पर तमाम तरह की खबरें भी आई थीं लेकिन अभी भी इस बात का कोई सबूत नहीं है कि क्या ये सच में मनुष्यों से जानवरों में ट्रांसफर होता है या नहीं. लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि क्या बाकई इस बात को गंभीरता से लिया जाना चाहिए या नहीं.

लेकिन कोरोना काल में यदि आप अपने पालतू जानवर को लेकर परेशान हो रहे हैं और संक्रमण के खतरे के खौफ में हैं तो अब टेंशन लेने की जरूरत नहीं है. क्योंकि एक कंपनी बिल्लियों के लिए वैक्सीन बनाने की योजना बना रही है. इस कंपनी का नाम Applied DNA Sciences बताया जा रहा है जिसने जानवरों के लिए LineaDNA वैक्सीन बनाने का दावा किया है.

Applied DNA Sciences कंपनी ने जानवरों पर इसके क्लिनिकल ट्रायल करने की पूरी तैयारी कर ली है. कंपनी का उद्देश्य सभी घरेलू बिल्लियों के बीच कोरोनोवायरस संक्रमण को रोकना है. फिलहाल कंपनी के पास वैक्सीन के ट्रायल के लिए 5 कंडीडेट्स हैं. बुधवार (16 सितंबर) को कंपनी ने कहा, यह वैक्सीन पूरी तरह से पशु चिकित्सा के लिए उपयोगी साबित होगी. जल्द ही इसका शुरुआती ट्रायल शुरू होगा. यह ट्रायल एक जैव प्रौद्योगिकी फर्म इविविक्स एसआरएल के सहयोग से कंडक्ट किया जाएगा.

कंपनी अपने पायलट फेज में 30 स्‍वस्‍थ बिल्लियों का वैक्सीन के ट्रायल के लिए चयन करेगी जिन्हें 6 माह तक ट्रेस किया जाएगा. जुलाई में, एप्लाइड डीएनए साइंसेज ने दावा किया था कि उसने अपनी LineaDNA वैक्सीन का 5 चूहों पर ट्रायल किया था जिसके परिणाम सकारात्मक आए थे. अब यदि इस वैक्सीन का ट्रायल बिल्लियों पर सफल हो जाता है तो क्या इसका मतलब इंसानों पर भी ये टीका असर करेगी? और पालतू जानवर क्या सच में कोविड से संक्रमित हो सकते हैं?

रोग नियंत्रण एवं निवारण केंद्र (US Centers for Disease Control and Prevention) के अनुसार इस बात का अभी तक कोई सबूत नहीं है कि जानवर वायरस को फैलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. सीडीसी ने यह भी दावा किया है कि “कुछ स्थितियों में”, वायरस लोगों से जानवरों में जरूर फैल सकता है लेकिन उन्हें उनसे इंसानों में फैलने के बहुत कम चांस हैं.

Close